शहर, सिनेमा और गांव कस्बों को एक मंच पर लाया है कोंच फ़िल्म फेस्टिवल

Konch Film Festival brings cities, cinema and village towns on one platform

कोंच (जालौन) कोरोना वैश्विक महामारी के चलते ऑनलाइन स्वरूप में परिवर्तित हुए कोंच ऑनलाइन इंटरनेशनल फ़िल्म फेस्टिवल आगामी 20 जून से डिजिटल माध्यम से आयोजित किया जा रहा जिसकी तैयारियों को लगभग अंतिम रूप दे दिया गया है। खास बात यह है कि यह फ़िल्म फेस्टिवल न सिर्फ छोटे-छोटे फ़िल्म मेकर्स के लिए वरदान साबित होगा बल्कि प्रतिभाओं के लिए भी मुकम्मल मंच होगा क्योंकि फेस्टिवल शहर सिनेमा और गांव कस्बों की प्रतिभाओं को एक मंच पर लाने को प्रयासरत है।

कोंच ऑनलाइन इंटरनेशनल फ़िल्म फेस्टिवल के संस्थापक/संयोजक पारसमणि अग्रवाल ने बताया कि 20 जून से शुरू होने वाले फ़िल्म फेस्टिवल मे न सिर्फ फ़िल्म मेकर्स को मौका मिलेगा बल्कि प्रतिभाओं को भी अपने हुनर प्रदर्शन का अवसर मिलेगा जिसमें सिनेमा शहर और गांव कस्बो की प्रतिभाएं सम्मिलित होगी।

उन्होंने बताया कि विभिन्न क्षेत्रों में विशेष योगदान देकर समाज के प्रति समपर्ण रखने वाली विभूतियों को फ़िल्म फेस्टिवल पर श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए उनकी स्मृति में सम्मान प्रारम्भ कर रही है जो प्रत्येक वर्ष प्रदान किये जायेंगे। अपनी धारदार कलम से मजलूमों की पीड़ा उकेरकर उनकी आवाज बन निष्पक्ष पत्रकारिता की मिसाल श्री कृष्ण मोहन रिछारिया की स्मृति में श्री कृष्णमोहन रिछारिया स्मृति पत्रकारिता सम्मान प्रारम्भ किया जाएगा ।

वामपंथी विचारक ,शिक्षाविद एवं इप्टा जैसे संगठनों से जुड़कर समाजहित में निरंतर सक्रिय रहे मथुरा प्रसाद महाविद्यालय के प्राचार्य श्री टी. डी. वैद की स्मृति में शिक्षा के क्षेत्र में श्री टी.डी. वैद स्मृति शिक्षाविद सम्मान, दूर दराज के विभिन्न मंचों पर कोंच का नाम ऊंचा करने वाले, बुंदेलखंड विश्वविद्यालय के पाठ्यक्रम में पढ़ाए जाने वाले एवं प्रदेश सरकार से अभिनन्दित साहित्यकार श्री रामरूप स्वर्णकार पंकज की स्मृति में श्री रामरूप स्वर्णकार पंकज स्मृति लेखन सम्मान फ़िल्म फेस्टिवल के तरफ से प्रारम्भ किया जाएगा।

विभूतियों की स्मृति में फ़िल्म फेस्टिवल शुरू करेगा सम्मान

पारस ने बताया कि प्रशासनिक क्षेत्र के साथ साथ प्रतिभाओं के लिए निरन्तर कार्य करने वाले एवं शिक्षा, सिनेमा के लिए मिशाल उत्तर प्रदेश के पूर्व डी. जी.पी. गिरीश बिहारी की स्मृति में निर्देशन क्षेत्र में श्री गिरीश बिहारी स्मृति निर्देशक सम्मान, मानवता को धर्म मान समाजसेवा के लिए हमेशा अग्रसर रहने वाले श्री नारायण दास अग्रवाल की स्मृति में श्री नारायणदास अग्रवाल स्मृति समाज सेवा सम्मान प्रारम्भ किया जाएगा। छोटी सी ही उम्र में इस दुनिया को अलविदा कहने वाली अपने लग्न और कार्य के प्रति ईमानदार बहुमुखी प्रतिभा की धनी कु. मिताली दुबे की स्मृति में बाल कलाकारों के प्रोत्साहन हेतु कु.मिताली दुबे स्मृति बाल कलाकार सम्मान, प्रतिभाओं के लिए हमेशा संघर्षरत शिक्षाविद फ़िल्म इंस्टीट्यूट ऑफ एमिट्स के पूर्व डायरेक्टर श्री अनुराग श्रीवास्तव की स्मृति में प्रतिभा प्रोत्साहन क्षेत्र में श्री अनुराग श्रीवास्तव प्रतिभा मित्र सम्मान शुरू किया जाएगा।

उन्होंने बताया कि फ़िल्म फेस्टिवल की ज्यूरी को भी निर्धारित कर दिया गया है जिसमें विभिन्न फ़िल्म फेस्टिवलों एवं अन्य महोत्सव में जज की भूमिका में रहने वाले फ़िल्म निर्माता निर्देशक अशोक महेरा, विभिन्न फ़िल्म एवं सीरियलो में अभिनय करने वाले टीवी एवं फ़िल्म अभिनेता आरिफ शहडोली, जाने माने फिल्मी पत्रकार एवं स्तम्भकार कुमार विमलेंदु, सीरियल और फिल्मों का निर्माण कर चुके निर्माता निर्देशक निर्भय चौधरी फिल्मों का मूल्यांकन करेंगे।
पारस ने बताया कि फ़िल्म फेस्टिवल का आयोजन 20 से 22 जून होगा। जबकि अवार्ड एवम सम्मान वितरण 28 जून को होगा।

ये पढ़े –

पांचवे खजुराहो इंटरनेशनल फ़िल्म फेस्टिवल में चम्बल की धूम

सोशल मीडिया पर लगातार Hindi News अपडेट पाने के लिए आप हमसें FacebookTwitterInstagram समेत You tube चैनल पर भी जुड़ सकते है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here