Chhath 2019: पुरे देश में धूम-धाम से मनाया जा रहा छठ पर्व, सूर्य भगवान को दिया गया पहला अर्घ्य

देश के हर कोने में छठ पर्व बड़े धूम-धाम से मनाया जा रहा है। खरना के साथ ही व्रतियों का 36 घंटे तक का निर्जला उपवास शुरू हो गया है। छठ मइया की पूजा (Chhath Maiya Puja) करने वाले सभी भक्त 2 नवंबर की शाम पहला अर्घ्य दे दिया है और फिर अगली सुबह (3 नवंबर) को अर्घ्य देकर छठ (Chhath) का समापन किया जाएगा। इस दौरान घाटों पर भक्तों की खूब भीड़ जमा है।

लोग अपने परिवार के साथ छठ पर्व मानाने लिए नदियों, तालाबों और सरोवरों के किनारे पहुंचे। घाट पर अर्घ्य दिया है, छठी मइया के भोजपुरी गाने की धुन के साथ सभी गुड़ की खीर का आनंद लिया। लेकिन इस बीच सबसे खास रहा सूर्य के उगने और ढलने का समय, क्योंकि इसी हिसाब से अर्घ्य देने की तैयारियां की जाएंगी।

बिहार
2 नवंबर सूर्यास्त का समय – 05:07pm
3 नवंबर सूर्योदय का समय – 05:58am

उत्तर प्रदेश
2 नवंबर सूर्यास्त का समय – 05:23pm
3 नवंबर सूर्योदय का समय – 06:16am

दिल्ली
2 नवंबर सूर्यास्त का समय – 05:35 pm
3 नवंबर सूर्योदय का समय – 06:34am

छत्तीगढ़
2 नवंबर सूर्यास्त का समय – 05:27pm
3 नवंबर सूर्योदय का समय – 06:07am

झारखंड
2 नवंबर सूर्यास्त का समय – 17:09pm
3 नवंबर सूर्योदय का समय – 05:54am

पश्चिम बंगाल
2 नवंबर सूर्यास्त का समय -04:58Pm
3 नवंबर सूर्योदय का समय -05:41am

मुम्बई
2 नवंबर सूर्यास्त का समय -06:05pm
3 नवंबर सूर्योदय का समय -06:39am

असम
2 नवंबर सूर्यास्त का समय – 04:40pm
3 नवंबर सूर्योदय का समय -05:32am

Chhath 2019: पुरे देश में धूम-धाम से मनाया जा रहा छठ पर्व, सूर्य भगवान को दिया गया पहला अर्घ्य

छठ पर्व के चार दिवसीय महापर्व के पहले दिन नहाय खाय से ही घरों में उत्सव जैसा महौल है, घर से दूर रहने वाले परिवार के सदस्य इस पूजा में शामिल होने के लिए दूर से दूर से आए हैं। शुक्रवार को खरना में भी महिलाओं ने गुड़ से बनी खीर और रोटी का सेवन किया। शनिवार को सूर्य भगवान को पहला अर्घ्य दिया गया। और दूसरे के साथ अगली सुबह (3 नवंबर) को अर्घ्य देकर छठ (Chhath) का समापन किया जायेगा।

सोशल मीडिया पर लगातार Hindi News अपडेट पाने के लिए आप हमसें FacebookTwitterInstagram समेत You tube चैनल पर भी जुड़ सकते है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here